भारत का प्रधानमंत्री कौन हैं 2020 में

भारत की आज़ादी के बाद हर पांच साल के बाद हमारे देश में चुनाव के जरिये भारत का प्रधानमंत्री चुना जाता हैं इसलिए भारत मे कई महापरुष भारत के प्रधानमंत्री बन चुके हैं और हर 5 साल बाद बदलते रहते हैं।

लेक़िन हमें सिर्फ़ भारत के पहले प्रधानमंत्री या फ़िर भारत का आज के प्रधानमंत्री के बारे में ही पता होता हैं औऱ कई बार हमें इसकी भी जानकारी नही होती कि भारत का प्रधानमंत्री कौन हैं लेक़िन इसके बारे में हर भारत के नागरिक को पता होना चाहिए।

bharat ka pradhan mantri kaun hai

दुनिया में जितने भी देश है उन देशों में लगभग राष्ट्रपति का पद सबसे महत्वपूर्ण माना जाता है परंतु भारत में राष्ट्रपति से ज्यादा प्रधानमंत्री का पद महत्वपूर्ण माना जाता है क्योंकि भारत में प्रधानमंत्री को भारतीय संविधान ने बहुत सारे अधिकार दिए हैं जिसका इस्तेमाल करके वह हमारे देश का अच्छे से संचालन करते हैं।

भारत जब आजाद हुआ था तब से ही हमारे देश में प्रधानमंत्री पद के चुनाव हर 5 साल में होते रहे हैं और साल 1947 में जब हमारे देश को आजादी मिली तो उसके बाद से ही अभी तक हमारे देश के प्रधानमंत्री के पद पर अलग-अलग लोग विराजमान हुए हैं जिनके बारे में शायद ही आपको पता होगा।

आज हम आपको भारत देश में आज तक कितने प्रधानमंत्री हुए हैं तथा उनका कार्यकाल कितने समय का था, उन्होंने कौन-कौन सी उपलब्धियां हासिल की थी, उनके नाम क्या क्या है तथा उन्होंने कौन-कौन से काम किए हैं सभी जानकारी प्रदान करने वाले हैं।

तो अगर आप एक विद्यार्थी या सरकारी नौकरी परीक्षाओं की तैयारी करते है तो यह आर्टिकल आपकों शरू से अंत तक जरूर पढ़ना चाहिए क्योंकि ऐसी जानकारी आपकों शायद ही कही मिले।

All Heading

भारत का प्रधानमंत्री कौन हैं

आज के समय में हमारे “भारत का प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी हैं” जो 2014 से अब तक भारत के वर्तमान प्रधानमंत्री है जिनका जन्म 17 सितंबर 1950 को भारत के गुजरात राज्य के बड़नगर में हुआ था।

इनके पिता का नाम स्वर्गीय दामोदरदास मूलचंद मोदी और माता का नाम हीराबेन है इनके चार भाई और एक बहन है। मोदी जी की शादी साल 1968 में 18 साल की उम्र में हुई थी और इनकी पत्नी का नाम जशोदाबेन मोदी है।

नरेंद्र मोदी जी साल 1987 में भाजपा में शामिल हुए थे औऱ 7 अक्टूबर सन 2001 को मोदी जी ने गुजरात के मुख्यमंत्री के रूप में शपथ ग्रहण की थी तथा नरेंद्र मोदी जी ने साल 2001 से लेकर 2014 तक गुजरात के मुख्यमंत्री के तौर पर काम किया।

साल 2014 में भाजपा पार्टी की तरफ से भारत के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार के तौर पर नामांकित किया गया इसके बाद इन्होंने प्रधानमंत्री पद का चुनाव लड़ा और इनकी उन चुनावों में बंपर विजई हुई उसके बाद से ही अब यह भारत के प्रधानमंत्री बने हुए हैं।

प्रधानमंत्री मोदी के महत्वपूर्ण कार्य और उपलब्धियां

1: 8 नवंबर 2016 को रात 8 बजे प्रधानमंत्री मोदी जी ने 500 और 1000 रुपए के पुराने नोट बंद कर दिए और इनकी जगह पर नये 2000 और 500 के नोट जारी किये।

2: साल 2017 में GST को लागू किया गया था जीएसटी का अंग्रेजी में अर्थ होता है “गुड्स सेलिंग टैक्स”

3: प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में भारत ने 29 सितंबर 2017 को एलओसी पार करके पाकिस्तान की सीमा में जाकर सर्जिकल स्ट्राइक करके कई आतंकवादियों को मार गिराया था।

4: मोदी जी के ही फलस्वरुप हर साल 21 जून को अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस मनाया जाता है।

5: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने सरदार वल्लभ भाई पटेल को वैश्विक स्तर पर पहचान दिलाने के लिए साल 2018 में 21 अक्टूबर को सरदार वल्लभभाई पटेल की 182 मीटर ऊंची प्रतिमा का उद्घाटन किया।

6: फोर्ब्स मैगजीन ने साल 2014 में मोदी जी का नाम दुनिया के सबसे शक्तिशाली लोगों की लिस्ट में 15वे स्थान पर रखा और इसी साल टाइम्स ऑफ इंडिया के द्वारा मोदी जी का नाम दुनिया के 100 सबसे ताकतवर लोगों में शामिल किया गया।

7 : साल 2016 के अप्रैल महीने में 3 तारीख को मोदी जी को सऊदी अरब सरकार द्वारा सऊदी अरब का सबसे बड़ा नागरिक पुुरस्कार दिया गया और इसी साल 4 जून को अफगानिस्तान सरकार ने मोदी जी को अफगानिस्तान का सर्वोच्च नागरिक पुरस्कार दिया।

8 : साल 2015, 2016 और 2018 में फॉर्बस मैगजीन ने दुनिया के 9 सबसे शक्तिशाली लोगों की लिस्ट में मोदी जी का नाम शामिल किया।

9: नरेंद्र मोदी जी ने भारत में निम्नलिखित योजनाएं चालू की जो इस प्रकार है- स्वच्छ भारत मिशन, बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना, सुकन्या समृद्धि योजना, किसान सम्मान निधि योजना, जन धन योजना, स्किल इंडिया योजना, मेक इन इंडिया योजना, आयुष्मान भारत योजना, प्रधानमंत्री मुद्रा योजना, प्रधानमंत्री अटल पेंशन योजना, उज्जवला योजना, जीवन ज्योति बीमा योजना, सुरक्षा योजना, स्मार्ट सिटी योजना, अमृत योजना,डिजिटल इंडिया योजना, उदय योजना, स्टार्टअप इंडिया योजना, स्टैंड अप इंडिया योजना तथा सभी सरकारी योजना देखें

मोदी जी के प्रधानमंत्री बनने के बाद हमारे भारत देश का पूरे विश्व में काफी सम्मान बढ़ा है और हम उम्मीद करते हैं कि मोदी जी आगे भी हमारे देश के लिए काफी अच्छे काम करेंगे। चलिए अब आगे आपको हमारे देश के अभी तक जितने भी प्रधानमंत्री हुए हैं उनके बारे में जानकारी देते हैं जैसे कि उनका कार्यकाल कितने समय का था, उनके नाम क्या थे, उन्होंने कौन-कौन से काम किए तथा उनकी उपलब्धियां इत्यादि को बारी-बारी जानतें हैं।

>भारत का राष्ट्रपति कौन हैं
>भारत मे कितने राज्य और कौनसे जानिये
>भारत के सबसे अमीर आदमीं की लिस्ट
>दुनिया का सबसे अमीर आदमीं की लिस्ट
> PM Modi सभी योजनाएं की जानकारी

मनमोहन सिंह(2004-2014)

मनमोहन सिंह भारत के 14वें प्रधानमंत्री बने थे औऱ यह लगातार साल 2004 से लेकर साल 2014 तक 10 सालों तक भारत के प्रधानमंत्री रहे थे। यह भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस पार्टी से जुड़े हुए हैं और आसाम से राज्यसभा सांसद थे।

मनमोहन सिंह का जन्म 26 सितंबर 1932 को पाकिस्तान में हुआ था यह हमारे भारत देश के पहले सिक्ख प्रधानमंत्री थे इनके पिता जी का नाम गुरमुख सिंह और माता का नाम अमृत कौर था इनकी पत्नी का नाम गुरशरण कौर है तथा तीन बच्चे हैं।

इन्होंने साल 1952 में अर्थशास्त्र में ग्रेजुएशन और साल 1954 में पोस्ट ग्रेजुएशन की डिग्री की थी और इसके बाद इन्होंने कैंब्रिज यूनिवर्सिटी से अर्थशास्त्र ट्राइपॉड को पूरा किया और फिर ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी से डी.फील लिया तथा साल 1987 में इन्हें पद्म विभूषण से सम्मानित किया गया।

मनमोहन सिंह जी के महत्वपूर्ण कार्य और उपलब्धियां

1: मनमोहन सिंह ने साल 1991 से लेकर 1996 के बीच देश की अर्थव्यवस्था को पटरी पर लाने के लिए कई नीति और ड्राफ्ट तैयार किये।

2: मनमोहन सिंह ने तमाम तरह के प्रेशर के बावजूद इस न्यूक्लियर डील को अंजाम दिया था यह डील साल 2005 में की गई थी।

3 : भारत सरकार द्वारा मनमोहन सिंह को भारत के चौथे सबसे बड़े सम्मान पद्म विभूषण से साल 1987 में सम्मानित किया गया।

4 : इन्हें भारतीय संसद ग्रुप के द्वारा साल 2002 में संसदीय अवार्ड दिया गया।

5 : 2010 में इन्हें एक फाउंडेशन ने वर्ल्ड स्टेटमैन अवार्ड से नवाजा।

6: मनमोहन सिंह ने निम्नलिखित योजना चालू की जो इस प्रकार है- प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना, राष्ट्रीय कृषि विकास योजना, नरेगा, राष्ट्रीय ग्रामीण पेयजल योजना, राष्ट्रीय स्वास्थ्य योजना, इंदिरा आवास योजना तथा अन्य।

अटल बिहारी बाजपेई (1998-2004)

अटल बिहारी वाजपेई भारतीय जनता पार्टी से संबंध रखते थे और इन्होंने 19 मार्च 1998 से लेकर 22 मई 2004 तक भारत के प्रधानमंत्री का पद संभाला और यह लखनऊ से सांसद थे।

अटल बिहारी वाजपेई का जन्म 25 दिसंबर 1924 को मध्यप्रदेश के ग्वालियर शहर में हुआ था इनकी माता का नाम कृष्णा देवी और पिता का नाम कृष्ण बिहारी वाजपेई था।

यह एक बहुत अच्छे पत्रकार, राजनेता और कवि थे और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ से भी जुड़े हुए थे अटल बिहारी वाजपेई जी इसके पहले भी साल 1996 में 16 मई से लेकर 1 जून 1996 तक भारत के प्रधानमंत्री रह चुके हैं 16 अगस्त 2018 में इनकी मृत्यु हो गई।

अटल बिहारी वाजपेई के महत्वपूर्ण कार्य और उपलब्धियां

1: जब अटल बिहारी वाजपेई भारत के प्रधानमंत्री बने तो प्रधानमंत्री बनने के एक महीने बाद ही उन्होंने राजस्थान में साल 1998 में पोखरण में 5 अंडर ग्राउंड न्यूक्लियर का सफल टेस्ट करवाया।

2: अटल जी ने ही नेशनल हाईवे डेवलपमेंट प्रोजेक्ट की शुरुआत की थी। नेशनल हाईवे डेवलपमेंट प्रोजेक्ट के तहत भारत के 4 मुख्य शहरों मुंबई, दिल्ली,चेन्नई और कोलकाता को आपस में जोड़ा गया।

3: कारगिल युद्ध और आतंकवादी हमले के बाद अटल जी के द्वारा लिए गए निर्णय और उनकी कूटनीति ने सबको प्रभावित किया।

4 : देश के लिए अच्छे काम करने के लिए साल 1992 में अटल बिहारी वाजपेई जी को भारत सरकार ने पद्म विभूषण सम्मान से नवाजा।

5 : साल 1994 में अटल बिहारी वाजपेई को सबसे अच्छे सांसद का अवार्ड मिला।

6 : साल 2014 में अटल बिहारी वाजपेई जी को भारत सरकार के सबसे बड़े सम्मान भारत रत्न से सम्मानित किया गया।

7 : अटल जी भारत के चार अलग-अलग राज्यों के सांसद थे, जिनमें दिल्ली, मध्य प्रदेश, गुजरात और उत्तर प्रदेश शामिल है।

8: अटल बिहारी वाजपेई जी ने निम्नलिखित योजना चालू की जो इस प्रकार हैं- सर्व शिक्षा अभियान, स्वर्णिम चतुर्भुज योजना, ग्राम सड़क योजना।

इंद्र कुमार गुजराल (1997-1998 )

यह जनता दल से संबंध रखते थे इंद्र कुमार गुजराल ने 21 अप्रैल 1997 से लेकर 19 मार्च साल 1998 तक भारत के प्रधानमंत्री पद को संभाला यह मौलाना आजाद यूनिवर्सिटी में चांसलर के पद पर भी विराजमान रहे हैं।

इंद्र कुमार गुजराल का जन्म 4 दिसंबर 1919 को झेलम, पंजाब (अब के पाकिस्तान) में हुआ था इनकी माता जी का नाम पुष्पा और पिता का नाम अवतार नारायण था इनकी दो बहने और एक भाई हैं और 30 नवंबर 2012 को इनकी मृत्यु हो गई।

इंद्र कुमार गुजराल के महत्वपूर्ण कार्य और उपलब्धियां

1: अन्य प्रधानमंत्री की तरह भी इंद्र कुमार गुजराल ने भी भारत के पड़ोसी देशों से अच्छे संबंध स्थापित करने का प्रयास किया।

2 : इंद्र कुमार गुजराल की विदेश नीति मील का पत्थर साबित हुई।

3 : इंद्र कुमार गुजराल को राजनीति का भद्र पुरुष कहा जाता था।

एच डी देवगौड़ा (1996-1997)

एच डी देवगौड़ा 1 जून 1996 से लेकर 21 अप्रैल 1997 तक भारत के प्रधानमंत्री रहे यह जनता दल पार्टी से जुड़े हुए थे और एच डी देवगौड़ा के बेटे एचडी कुमार स्वामी कर्नाटक के मुख्यमंत्री भी बन चुके हैं।

इनका जन्म साल 1837 में कर्नाटक के हरदनहल्ली में हुआ था इनके माता-पिता का नाम देवंमा, दोद्देगोव्दा था इनकी पत्नी का नाम चेन्नम्मा देवगौड़ा था इनके चार बेटे और दो बेटियां थी।

एच डी देवगौड़ा के महत्वपूर्ण कार्य और उपलब्धियां

1: कर्नाटक में रहने वाले किसानों की समस्याओं को हल करने में एच डी देवगौड़ा ने काफी मेहनत की थी जिसके कारण उनकी तारीफ संसद में भी बहुत हुई थी।

2 : इन्हें एक अच्छे प्रधानमंत्री के तौर पर याद किया जाता है।

3 : इन्होंने कर्नाटक की महिलाओं को आरक्षण देने का प्रयास किया।

4 : कर्नाटक की निचली जातिया इन्हें काफी सम्मान देती हैं।

नरसिम्हा राव (1991-1996)

यह इंडियन नेशनल कांग्रेस पार्टी से जुड़े हुए थे औऱ यह 21 जून 1991 से लेकर 16 मई 1996 तक भारत के प्रधानमंत्री रहे। यह एक अच्छे वकील, एक अच्छे स्वतंत्रता सेनानी और पॉलिटिशियन थे तथा नरसिम्हा राव को “भारतीय आर्थिक सुधारों का जनक” भी कहा जाता था।

नरसिम्हा राव का जन्म 28 जून 1921 को भारत देश के हैदराबाद राज्य के करीमनगर में हुआ था इनकी माता जी का नाम रुकमणी अम्मा और पिताजी का नाम पी रंगाराव था।
सत्यममा से शादी के बाद नरसिम्हा राव के तीन बेटे और पांच बेटियां हुई व 23 दिसंबर 2004 को इनकी मृत्यु हो गई।

नरसिम्हा राव के महत्वपूर्ण कार्य और उपलब्धियां

1 : यह इंडियन नेशनल कांग्रेस में गांधी नेहरू परिवार के अलावा पहले ऐसे व्यक्ति थे जिन्होंने पूरे 5 साल प्रधानमंत्री का पद संभाला।

2 : यह भारत के पहले ऐसे प्रधानमंत्री थे जिनकी मातृभाषा हिंदी नही थी।

चंद्रशेखर सिंह ( 1990-1991)

चंद्रशेखर सिंह समाजवादी जनता दल पार्टी से जुड़े हुए थे औऱ यह 10 नवंबर 1990 से लेकर 21 जून 1991 तक भारत के प्रधानमंत्री पद पर रहे तथा इतने कम समय तक प्रधानमंत्री के पद पर रहने के कारण देश के लिए कुछ काम नहीं कर पाए।

चंद्रशेखर सिंह का जन्म 1 जुलाई 1927 को उत्तर प्रदेश के इब्राहिमपट्टी में हुआ था चंद्रशेखर सिंह राजपूत समुदाय से ताल्लुक रखते थे और इन्होंने अपनी पढ़ाई इलाहाबाद विश्वविद्यालय से पूरी की थी व 8 जुलाई सन 2007 में इनकी मृत्यु हो गई।

विश्वनाथ प्रताप सिंह (1989-1990)

विश्वनाथ प्रताप सिंह जनमोर्चा पार्टी से थे इन्होंने 2 दिसंबर सन 1989 से लेकर 10 दिसंबर साल 1990 तक भारत के प्रधानमंत्री का पद संभाला लेक़िन बीपी सिंह भी काफी कम समय तक भारत के प्रधानमंत्री रहे इसीलिए यह बहुत अधिक काम नहीं कर पाये।

इनका जन्म 25 जून 1931 को भारत के उत्तर प्रदेश राज्य के इलाहाबाद शहर में हुआ था इनके पिता जी का नाम राजा राय बहादुर गोपाल सिंह था और इनकी पत्नी का नाम सीता कुमारी था व 27 नवंबर 2008 में इनकी मृत्यु हो गई।

राजीव गांधी (1984-1989)

राजीव गांधी का जन्म 20 अगस्त 1944 को भारत के महाराष्ट्र राज्य के मुंबई शहर में हुआ था इनकी माता जी का नाम इंदिरा गांधी तथा पिता जी का नाम फिरोज गांधी था औऱ यह गांधी परिवार से थे।

इनकी माताजी इंदिरा गांधी और नाना जवाहरलाल नेहरू दोनों भारत के प्रधानमंत्री रह चुके हैं औऱ राजीव गांधी की पत्नी का नाम सोनिया गांधी है प्रियंका गांधी और राहुल गांधी इनके बच्चे है।

यह इंडियन नेशनल कांग्रेस पार्टी से जुड़े हुए थे और 31 अक्टूबर 1984 से लेकर 2 दिसंबर 1989 तक भारत के प्रधानमंत्री के पद पर रहे लेकिन एलटीटीई नाम के आतंकवादी संगठन ने 21 मई सन 1991 में राजीव गांधी की हत्या मानव बम के द्वारा करवा दी।

राजीव गांधी के महत्वपूर्ण कार्य और उपलब्धियां

1: राजीव गांधी जी ने देश में शिक्षा को बढ़ावा देने के लिए जवाहर नवोदय विद्यालय की शुरुआत करवाई थी।

2: राजीव गांधी के प्रयास के द्वारा ही भारत में कंप्यूटर क्रांति की शुरुआत हुई इसके अलावा उनके कार्यकाल में ही भारत की दो सरकारी टेलीकॉम कंपनी बीएसएनएल और एमटीएनएल का आरंभ हुआ।

3 : राजीव गांधी ने हमारे भारत देश के जवान लोगों को रोजगार देने के लिए जवाहर रोजगार योजना की शुरुआत की।

4 : राजीव गांधी के सम्मान में निनैवागम, श्रीपेरुम्पुदुर में स्मृति स्थल का निर्माण किया गया।

5 : राजीव गांधी की याद में हैदराबाद इंटरनेशनल एयरपोर्ट का नाम बदलकर राजीव गांधी इंटरनेशनल एयरपोर्ट कर दिया गया।

6 : राजीव गांधी के मरने के बाद भारत सरकार के सबसे बड़े सम्मान भारत रत्न से सम्मानित किया गया।

7 : राजीव गांधी के नाम पर भारत में कई खेल अवार्ड दिए गए जैसे राजीव गांधी खेल रत्न अवॉर्ड।

इंदिरा गांधी (1966-1977 व 1980-1984)

इंदिरा गांधी दो बार भारत की प्रधानमंत्री बनी थी जिसमें यह पहली बार साल 1966 से 1977 भारत की प्रधानमंत्री रही और दूसरी बार 1980 से 1984 तक भारत की प्रधानमंत्री रही।

इंदिरा गांधी का जन्म 19 नवंबर सन 1917 को भारत के उत्तर प्रदेश राज्य के इलाहाबाद शहर में हुआ था इनके पिता का नाम जवाहरलाल नेहरू और माता का नाम कमला नेहरू था। इनके पति का नाम फिरोज गांधी था और इनके दो बेटे थे जिनके नाम राजीव गांधी और संजय गांधी थे।

साल 1984 में 31 अक्टूबर के दिन इंदिरा गांधी के बॉडीगार्ड सतवंत सिंह और बेअंत सिंह ने स्वर्ण मंदिर में हुए नरसंहार का बदला लेने के लिए इंदिरा गांधी को 31 गोलियां मारी जिससे उसकी मौत हो गई।

इंदिरा गांधी के महत्वपूर्ण कार्य और उपलब्धियां

1: इंदिरा गांधी ने साल 1984 में स्वर्ण मंदिर को खालिस्तानी आतंकवादियों से मुक्त कराने के लिए ऑपरेशन ब्लू स्टार के तहत स्वर्ण मंदिर में सेना लगाने का आदेश दिया।

2 : साल 1971 में इंदिरा गांधी को भारत रत्न से सम्मानित किया गया था।

3 : साल 1972 में बांग्लादेश को पाकिस्तान से आजाद करवाने के कारण उन्हें मैक्सिकन अवार्ड दिया गया

4 : 1976 में इंदिरा गांधी को हिंदी में साहित्य वाचस्पति का अवार्ड दिया गया

5 : साल 1953 में इंदिरा गांधी को यूएसए का मदरसा अवार्ड भी दिया गया।

6 : इंदिरा गांधी को इसल्बेला डी’एस्टे अवार्ड ऑफ़ इटली (Islbella d’Este Award of Italy) भी मिला।

7 : इंदिरा गांधी को 1967 और 1968 में फ्रेंच देश में सबसे ज्यादा पसंद की जाने वाली महिला राजनेता का खिताब भी मिला था।

चौधरी चरण सिंह (1979-1980)

चौधरी चरण सिंह जनता दल पार्टी से थे लेक़िन बाद में उन्होंने जनता दल पार्टी छोड़ दी और साल 1979 में कांग्रेस तथा दूसरे दलों के सहयोग से यह भारत के प्रधानमंत्री बन गए चरणसिंह 28 जुलाई 1979 से 14 जनवरी 1980 तक देश के प्रधानमंत्री रहे 29 मई 1987 को इनकी मृत्यु हो गई ।

चौधरी चरण सिंह का जन्म 23 दिसंबर सन 1902 में भारत के उत्तर प्रदेश राज्य के मेरठ में हुआ था इनके पिता का नाम मीर सिंह था इनकी पत्नी का नाम गायत्री था व 5 बच्चे हैं।

चौधरी चरण सिंह के महत्वपूर्ण कार्य और उपलब्धियां

1: चौधरी चरण सिंह को किसानों का मसीहा कहा जाता था इसीलिए उन्होंने अपने कार्यकाल में किसानों की खुशहाली के लिए कई काम किए।

2 : चौधरी चरण सिंह के प्रयासों के कारण ही साल 1952 में यूपी में जमीदारी प्रथा खत्म हुई और गरीबों को उनका अधिकार मिला है।

3 : चौधरी चरण सिंह के कारण ही लेखपाल का पद अस्तित्व में आया है।

4 : किसानों के फायदे के लिए साल 1954 में चौधरी चरण सिंह ने उत्तर प्रदेश भूमि संरक्षण बिल को पास करवाया।

मोरारजी देसाई (1977-1979)

मोरारजी देसाई ने सरकारी नौकरी को छोड़ कर भारत के स्वतंत्रता संग्राम में हिस्सा लिया था और मोरारजी देसाई 24 मार्च 1977 से लेकर 28 जुलाई 1979 तक भारत के प्रधानमंत्री के पद पर रहे10 अप्रैल 1995 को इनकी मृत्यु हो गई।

मोरारजी देसाई का जन्म 29 फरवरी 1896 को गुजरात के भदेली में हुआ था इनकी पत्नी का नाम गुजरादेवी था और इनका एक बेटा भी था इनके पिताजी एक अध्यापक थे इनकी शादी 16 साल की उम्र में ही गुजराबेन के साथ हो गई थी।

मोरारजी देसाई के महत्वपूर्ण कार्य और उपलब्धियां

1: मोरारजी देसाई ने भारत के पड़ोसी देश पाकिस्तान से शांति के लिए समझदारी से चर्चा की।

2: 1962 में चीन से युद्ध होने के बावजूद भी मोरारजी देसाई ने उनके साथ संबंधों को सुधारने के प्रयास किए।

3 : यह भारत के पहले ऐसे प्रधानमंत्री थे जो गांधी नेहरू परिवार से संबंध नहीं रखते थे।

4 : पाकिस्तान सरकार द्वारा साल 1990 में मोरारजी देसाई को निशान ए पाकिस्तान से सम्मानित किया गया।

5 : भारत सरकार द्वारा मोरारजी देसाई को 1991 मे भारत रत्न दिया गया।

गुलजारी लाल नंदा (1964-1964,1966-1966)

गुलजारीलाल नंदा एक अच्छे लेखक भी थे और इन्होंने दो बार थोड़े-थोड़े समय के लिए भारत के प्रधानमंत्री का पद संभाला जिसमें इन्होंने पहली बार 27 मई 1964 से लेकर 9 जून 1964 तक और दूसरी बार 11 जनवरी 1966 से लेकर 24 जनवरी 1966 तक भारत के प्रधानमंत्री के रूप में काम किया 15 जनवरी 1998 को उनकी मृत्यु हो गई।

गुलजारी लाल नंदा का जन्म 4 जुलाई 1898 मे पाकिस्तान के पंजाब के सियालकोट में हुआ था इनकी माता का नाम ईश्वर देवी नंदा और पिता का नाम बुलाकी राम नंदा था और पत्नी का नाम लक्ष्मी देवी था तथा दो पुत्र और एक पुत्री थी इन्होंने महात्मा गांधी के साथ सविनय अवज्ञा आंदोलन में भी भाग लिया।

गुलजारी लाल नंदा के महत्वपूर्ण कार्य और उपलब्धियां

1: साल 1966 में जब लाल बहादुर शास्त्री की मृत्यु हो गई तब गुलजारीलाल नंदा ने प्रधानमंत्री बनकर देश को संभाला और बड़ी शांति से अपना काम किया।

2 : सन 1997 में भारत सरकार ने गुलजारीलाल नंदा को भारत रत्न से सम्मानित किया।

3 : भारत सरकार ने इन्हें पद्म विभूषण पुरस्कार से भी सम्मानित किया।

लाल बहादुर शास्त्री जी (1964-1966)

1942 में हुए भारत छोड़ो आंदोलन में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी औऱ लाल बहादुर शास्त्री जी ने ही भारतीयों को जगाने के लिए “करो या मरो” का नारा दिया था। लाल बहादुर शास्त्री जी इंडियन नेशनल कांग्रेस पार्टी से थे और 9 जून 1964 से लेकर 11 जनवरी 1966 तक भारत के प्रधानमंत्री का पद संभाला व 11 जनवरी 1966 को इनकी मृत्यु हो गई।

लाल बहादुर शास्त्री का जन्म 2 अक्टूबर 1904 में भारत के उत्तर प्रदेश राज्य के वाराणसी के मुगलसराय में हुआ था इनकी माता का नाम राम दुलारी और पिता का नाम मुंशी शारदा प्रसाद श्रीवास्तव था इनकी पत्नी का नाम ललिता देवी था और इनके चार लड़के तथा दो लड़कियां थी।

लाल बहादुर शास्त्री जी के महत्वपूर्ण कार्य और उपलब्धियां

1: हिंदुस्तान में सफेद और हरित क्रांति लाने का श्रेय भी लाल बहादुर शास्त्री को जाता है।

2: लाल बहादुर शास्त्री जी को जीतने जवान पसंद थे उतने ही किसान पसंद थे इसीलिए इन्होंने “जय जवान जय किसान का नारा” दिया था।

3: पाकिस्तान और भारत के बीच शांति रखने के लिए लाल बहादुर शास्त्री जी ने ताशकंद समझौता किया था यह समझौता करने के 12 घंटे बाद ही लाल बहादुर शास्त्री की मृत्यु हो गई।

4 : हर साल 2 अक्टूबर को लाल बहादुर शास्त्री जयंती मनाई जाती है।

5 : हर साल 11 जनवरी को लाल बहादुर स्मृति दिवस मनाया जाता है।

6 : लाल बहादुर शास्त्री मरने के बाद भारत सरकार का सबसे बड़ा पुरस्कार भारत रत्न पाने वाले पहले व्यक्ति थे।

जवाहरलाल नेहरू (1947-1964)

नेहरु जी भारत के पहले प्रधानमंत्री थे जिन्होंने 15 अगस्त 1947 से लेकर 27 मई 1964 तक भारत के प्रधानमंत्री का पद संभाला यह इंडियन नेशनल कांग्रेस पार्टी से जुड़े हुए थे और स्वतंत्रता संग्राम के सेनानी रहे थें।

जवाहरलाल नेहरू का जन्म 14 नवंबर 1889 को भारत के उत्तर प्रदेश राज्य के इलाहाबाद (वर्तमान के प्रयागराज) शहर में हुआ था इनकी माता जी का नाम स्वरूप रानी नेहरू और पिता का नाम मोतीलाल नेहरू था इनकी पत्नी का नाम कमला नेहरू था व बेटी इंदिरा गांधी थी व 27 मई 1964 को इनकी मृत्यु हो गई।

जवाहरलाल नेहरू के महत्वपूर्ण कार्य और उपलब्धियां

1: जवाहरलाल नेहरू ने अपने पड़ोसी देशों से संबंध सुधारने के लिए काफी प्रयास किए परंतु साल 1962 में जब चीन ने भारत पर हमला कर दिया तो इससे नेहरू जी को काफी आघात लगा।

2: जब हमारा देश आजाद हुआ तब हमारे देश की अर्थव्यवस्था बहुत ही खराब थी परंतु नेहरू जी ने अपनी दूरदर्शिता और योजनाओं से देश को आगे बढ़ाने का काम किया।

3: जवाहरलाल नेहरू ने आजादी के बाद भारत का आर्थिक विकास करने के लिए पंचवर्षीय योजना चालू की।

4 : जवाहरलाल नेहरू भारत देश के आजाद होने के बाद भारत के पहले प्रधानमंत्री बने।

5 : जवाहरलाल नेहरू को साल 1955 में भारत रत्न का अवार्ड दिया गया।

6 : जवाहरलाल नेहरू को आधुनिक भारत का निर्माता कहां गया।

तो दोस्तों आज हमनें आपकों भारत का प्रधानमंत्री कौन हैं औऱ अब तक भारत मे कितने औऱ कौन-कौन प्रधानमंत्री रहें है उन सबकी जानकारी प्रदान की गई हैं जोकि सामान्य ज्ञान रखने वाले लोगों के लिए बेहद मदतगार हैं।

हम उमीद करते है कि आपको हमारा यह आर्टिकल पसंद आया होगा औऱ अगर पसंद आया है तो इसे अपने अभी दोस्तों के साथ जरूर Share करें तथा आपके कोई सवाल जवाब है तो हमने कमेंट बॉक्स के माध्यम से जरूर बतायें।

हर जानकारी अपनी भाषा हिंदी में सरल शब्दों में प्राप्त करने के हमारे फेसबुक पेज को लाइक करे जहाँ आपको सही बात पूरी जानकारी के साथ प्रदान की जाती है हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहाँ क्लिक करें

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.