ओडिशा का मुख्यमंत्री कौन हैं जानिये

एक समय पर ओडिशा राज्य उड़ीसा नाम से जाना जाता था यह राज्य क्षेत्रफल के हिसाब से भारत का नौवां सबसे बड़ा राज्य हैं प्रत्येक राज्य की तरह हर पांच साल के बाद चुनाव के जरिये मुख्यमंत्री चुना जाता हैं इसलिए कई महापुरुष ओडिशा के मुख्यमंत्री पद पर आश्रित हुए हैं लेकिन क्या आप जानते हैं कि वर्तमान समय में ओडिशा का मुख्यमंत्री कौन हैं?

ओडिशा का गठन 1 अप्रैल 1936 को हुआ था इसलिए इस दिन को यहाँ पर उत्कल दिवस के रूप में मनाया जाता है यहाँ पर विश्व का सबसे लम्बा मिटटी का बांध “हीराकुंड बांध” स्थित हैं साथ ही अनेको पर्यटन स्थल जैसे जगन्नाथ मंदिर, सूर्य मंदिर, अशोक का शिलालेख आदि भी हैं। 

mukhyamantri kaun hai Hindi me

प्रत्येक राज्य की तरह यहाँ हर पांच साल के बाद चुनाव के जरिये मुख्यमंत्री चुना जाता है इसलिए कई महापुरुष ओडिशा के मुख्यमंत्री बन चुके है क्योंकि अक़्सर सरकारी नौकरीयों की परीक्षाओं में राज्यों के मुख्यमंत्रियों के नाम पूछें जाते हैं चूँकि हर पांच साल के बाद चुनाव के द्वारा राज्य का मुख्यमंत्री चुना जाता हैं इसलिए राज्य के मुख्यमंत्री बदलतें रहते हैं जिसे अपडेट रहना पड़ता हैं। 

इसलिए आज हम आपको ओडिशा के वर्तमान समय के मुख्यमंत्री से लेकर पूर्व मुख्यमंत्री तक के बारे में सम्पूर्ण जानकारी प्रदान करने वाले हैं जैसे अभी तक ओडिशा में कितने मुख्यमंत्री हुए हैं और उनके नाम क्या हैं व उन्होंने कब से कब तक पद को संभाला है इत्यादि तो चलिए जानते हैं कि आज ओडिशा का मुख्यमंत्री कौन हैं?

ओडिशा
राज्य की राजधानी भुबनेश्वर
गठन 1 अप्रैल 1936
क्षेत्रफल 155,707
जनसंख्या 41,974,218
सबसे बड़ा शहर भुबनेश्वर
राज्य भाषा ओडिया

ओडिशा का मुख्यमंत्री कौन हैं?

वर्तमान समय में ओडिशा के मुख्यमंत्री श्री नवीन पटनायक जी हैं इनके नाम ओडिशा के सबसे लम्बे समय तक मुख्यमंत्री रहने का श्रेय हैं यह बीजू जनता दल पार्टी से हैं इन्होने ओडिशा के मुख्यमंत्री के रूप में 5 मार्च 2000 को शपथ ली थी। 

नाम नवीन पटनायक
जन्म 16 अक्टूबर 1946
पार्टी बीजू जनता दल

इनका जन्म ओडिशा के कट्टक में 16 अक्टूबर 1946 को श्री बीजू पटनायक और श्रीमती ज्ञान पटनायक के घर हुआ था यह राजनीतिज्ञ होने के साथ एक लेखक भी हैं इन्होने 19 मार्च 1998 से 4 मार्च 2000 तक इस्पात और खान मंत्री के रूप में कार्य किया था और नवीन पटनायक जी ने “ए सेकंड पैराडाइस” “ए डेजर्ट किंगडम” और “द गार्डन ऑफ़ लाइफ” तीन पुस्तके लिखी हैं। 

हेमानंद बिस्वाल

हेमानंद बिस्वाल जी ओडिशा के पहले आदिवासी मुख्यमंत्री थे जो भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस पार्टी से हैं और इन्होने ओडिशा का मुख्यमंत्री पद दो बार संभाला था इनका पहला कार्यकाल 7 दिसम्बर 1989 से 5 मार्च 1990 और दूसरा कार्यकाल 6 दिसम्बर 1999 से 5 मार्च 2000 तक रहा था। 

नाम हेमानंद बिस्वाल
जन्म 1 दिसम्बर 1939
पार्टी भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस
कार्यकाल 1989 – 2000

इनका जन्म ओडिशा के ठाकुरपाड़ा में 1 दिसम्बर 1939 को हुआ था इनकी जीवनसाथी श्रीमती उर्मिला बिस्वाल हैं इन्होने ओडिशा सरकार में राज्य, स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्री के रूप में 1985 से 1986 तक कार्य किया था।

गिरिधर गमंग

गिरिधर गमंग जी भारतीय राजनीतिज्ञ हैं जो भारतीय जनता पार्टी से हैं इन्होने ओडिशा का मुख्यमंत्री पद 17 फरवरी 1999 से 6 दिसम्बर 1999 तक संभाला था। 

नाम गिरिधर गमंग
जन्म अप्रैल 1943
पार्टी भारतीय जनता पार्टी
कार्यकाल 1999

जानकी बल्लभ पटनायक

जानकी बल्लभ पटनायक जी भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस पार्टी से हैं और इन्होने ओडिशा का मुख्यमंत्री पद दो बार संभाला था इनका पहला कार्यकाल 9 जून 1980 से 7 दिसम्बर 1989 और दूसरा कार्यकाल 15 मार्च 1995 से 17 फरवरी 1999 तक रहा था। 

नाम जानकी बल्लभ पटनायक
जन्म 3 जनवरी 1927
पार्टी भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस
कार्यकाल 1980 – 1999
मृत्यु  21 अप्रैल 2015

जानकी बल्लभ पटनायक जी का जन्म रामेश्वर में 3 जनवरी 1927 को हुआ था और जीवनसाथी श्रीमती जयंती पटनायक थी यह 1980 में पर्यटन नागरिक उड्डयन और श्रम मंत्री बने और 11 दिसम्बर 2009 से 10 दिसम्बर 2014 तक वह असम के राज्यपाल के पद पर कार्य करते रहे थे इनकी मृत्यु आंध्रप्रदेश के तिरुपति में 21 अप्रैल 2015 को हुई थी।

बीजू पटनायक

बीजू पटनायक जी का पूरा नाम बिजयानान्दा पटनायक था जो भारतीय राजनीतिज्ञ होने के साथ उद्योगपति और एयरोनॉटिकल इंजीनियर भी थे जोकि जनता पार्टी से थे यह ओडिशा के तीसरे मुख्यमंत्री थे और इन्होने ओडिशा का मुख्यमंत्री पद दो बार संभाला था इनका पहला कार्यकाल 23 जून 1961 से 2 अक्टूबर 1963 तक और दूसरा कार्यकाल 5 मार्च 1990 से 15 मार्च 1995 तक रहा था।

नाम बीजू पटनायक
जन्म 5 मार्च 1916
पार्टी जनता
कार्यकाल 1961 – 1963
1990 – 1995
मृत्यु 17 अप्रैल 1997

बीजू पटनायक जी का जन्म ओडिशा के कटक में 5 मार्च 1916 को हुआ था इनकी जीवनसाथी ज्ञान पटनायक थी इन्होने इस्पात, खान और कोयला मंत्री के रूप में 26 मार्च 1977 से 15 जुलाई 1979 तक और 30 जुलाई 1979 से 14 जनवरी 1980 तक कार्य किया था इंडोनेशिया सरकार के द्वारा उन्हें सर्वोच्च नागरिक सम्मान “भूमिपुत्र” से सम्मानित किया गया था और 2016 मे इनके सम्मान में 5 रुपए स्मारक सिक्का जारी किया गया इनकी मृत्यु नई दिल्ली में 17 अप्रैल 1997 को हुई थी। 

नीलमणि राउत्रे

नीलमणि राउत्रे जी जनता दल पार्टी से थे इन्होने ओडिशा का मुख्यमंत्री पद 26 जून 1977 से 17 फरवरी 1980 तक संभाला था। 

नाम नीलमणि राउत्रे
जन्म 24 मई 1920
पार्टी जनता दल पार्टी
कार्यकाल 1977 – 1980
मृत्यु अक्टूबर 2004

इनका जन्म मुकुंदपुर में 24 मई 1920 को हुआ था और जीवनसाथी श्रीमती नलिनी देवी राउत्रे थी यह 2 दिसम्बर 1989 से 10 नवम्बर 1990 तक पर्यावरण और वन्य मंत्री पद पर कार्यरत रहे थे और ये नीलमणि राउत्रे आल इंडिया स्टूडेंट फेडरेशन के संस्थापक थे इनकी आत्मकथा स्मृति ओ अनुभूति ने 1988 में ओडिशा साहित्य अकादमी पुरुस्कार जीता था इनकी मृत्यु कट्टक में 4 अक्टूबर 2004 को हुई थी।  

बिनायक आचार्य

बिनायक आचार्य जी भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस पार्टी से थे इन्होने ओडिशा का मुख्यमंत्री पद 29 दिसम्बर 1976 से 30 अप्रैल 1977 तक संभाला था।  

नाम बिनायक आचार्य
जन्म 30 अगस्त 1918
पार्टी भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस
कार्यकाल 1976 – 1977
मृत्यु 11 दिसम्बर 1983

इनका जन्म ओडिशा के बेरहामपुर में 30 अगस्त 1918 को हुआ था इनकी जीवनसाथी का नाम श्रीमती भाग्यलता मिश्रा था इनकी मृत्यु 11 दिसम्बर 1983 को 65 वर्ष की आयु में हुई थी। 

नंदिनी सत्पथी

नंदिनी सत्पथी जी ओडिशा की पहली महिला मुख्यमंत्री थी जो भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस पार्टी से थी इन्होने दो बार ओडिशा का मुख्यमंत्री पद संभाला था इनका पहला कार्यकाल 14 जून 1972 से 3 मार्च 1973 और दूसरा कार्यकाल 6 मार्च 1973 से 16 दिसम्बर 1976 तक रहा था। 

नाम नंदिनी सत्पथी
जन्म 9 जून 1931
पार्टी भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस
कार्यकाल 1972 – 1976
मृत्यु 4 अगस्त 2006

नंदिनी सत्पथी जी का जन्म ओड़िशा के कट्टक में 9 जून 1931 को हुआ था यह पेशे से ओडिया भाषा की लेखिका थी जिसके लिए इन्हें 1998 में साहित्य भारती सम्मान अवार्ड से सम्मानित किया गया था इनके जीवनसाथी श्री देवेन्द्र सत्पथी थे और नंदिनी सत्पथी की याद में 2006 में श्रीमती नंदिनी सत्पथी मेमोरियल ट्रस्ट की स्थापना की गयी इनकी मृत्यु भुबनेश्वर मे 4 अगस्त 2006 को हुई थी। 

बिस्वानाथ दास

बिस्वानाथ दास जी भारतीय राजनीतिज्ञ होने के साथ वकील भी थे यह यूनाइटेड फ्रंट पार्टी से थे इन्होने ओडिशा का मुख्यमंत्री पद 3 अप्रैल 1971 से 14 जून 1972 तक संभाला था। 

नाम बिस्वानाथ दास
जन्म 8 मार्च 1889
पार्टी यूनाइटेड फ्रंट
कार्यकाल 1971 – 1972
मृत्यु 2 जून 1984

बिस्वानाथ दास जी ने उत्तरप्रदेश के राज्यपाल का पद 16 अप्रैल 1962 से 30 अप्रैल 1967 तक संभाला था इनका जन्म मद्रास प्रेसीडेंसी के समय बेलागन में 8 मार्च 1889 को हुआ था और इनकी मृत्यु कट्टक में 95 वर्ष की आयु में 2 जून 1984 को हुई थी।

राजेन्द्र नारायण सिंह देव

राजेन्द्र नारायण सिंह देव जी भारतीय राजनेता होने के साथ ही पटना रियासत के अंतिम शासक थे जोकि स्वतंत्र पार्टी से थे इन्होने ओडिशा का मुख्यमंत्री पद 8 मार्च 1967 से 9 जनवरी 1971 तक संभाला था।

नाम राजेन्द्र नारायण सिंह देव
जन्म 31 मार्च 1912
पार्टी स्वतंत्र पार्टी
कार्यकाल 1967 – 1971
मृत्यु 23 फरवरी 1975

इनका जन्म बलांगीर में 31 मार्च 1912 को हुआ था इनकी जीवनसाथी श्रीमती कैलाश कुमारी देबी थी इनकी मृत्यु 23 फरवरी 1975 को हुई थी। 

सदाशिव त्रिपाठी

सदाशिव त्रिपाठी जी भारतीय स्वतंत्रता सेनानी थे जो भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस पार्टी से थे इन्होने ओडिशा का मुख्यमंत्री पद 21 फरवरी 1965 से 8 मार्च 1967 तक संभाला था। 

नाम सदाशिव त्रिपाठी
जन्म 21 अप्रैल 1910
पार्टी भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस
कार्यकाल 1965 – 1967
मृत्यु 9 सितम्बर 1980

इनका जन्म नबरंगपुर में 21 अप्रैल 1910 को हुआ था इन्होने ओडिशा के राजस्व मंत्री के रूप में भी काम किया था इनकी जीवनसाथी तिलोत्तमा त्रिपाठी थी इनकी मृत्यु कट्टक में 9 सितम्बर 1980 को हुई थी।  

बीरेन मित्रा 

बीरेन मित्रा जी भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस पार्टी से थे इन्होने ओडिशा का मुख्यमंत्री पद 2 अक्टूबर 1963 से 21 फरवरी 1965 तक संभाला था। 

नाम बीरेन मित्रा 
जन्म 26 नवम्बर 1917
पार्टी भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस
कार्यकाल 1963 – 1965
मृत्यु 25 मई 1978

इनका जन्म कट्टक में 26 नवम्बर 1917 को हुआ था और अपनी शिक्षा रावेनशॉ कॉलेज से पुरी की थी इनकी जीवनसाथी श्रीमती इस्वरमा मित्र थी इनकी मृत्यु 60 वर्ष की आयु में 25 मई 1978 को हुई थी। 

नवकृष्ण चौधरी

नवकृष्ण चौधरी जी भारतीय स्वतंत्रता सेंनानी थे और भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस पार्टी से थे इन्होने ओडिशा का मुख्यमंत्री पद 12 मई 1950 से 19 अक्टूबर 1956 तक संभाला था। 

नाम नवकृष्ण चौधरी
जन्म 23 नवम्बर 1901
पार्टी भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस
कार्यकाल 1950 – 1956
मृत्यु 24 जून 1984

इनका जन्म खेर्सा में 23 नवम्बर 1901 को हुआ था इन्होने कट्टक के रावेनशॉ कॉलेज से अपनी शिक्षा ली थी इनकी जीवनसाथी श्रीमती मालती चौधरी थी।

नवकृष्ण चौधरी जी ने ओडिशा के राजस्व मंत्री के पद को 23 अप्रैल 1946 से 23 अप्रैल 1948 तक संभाला था राजनीती छोड़ने के बाद इन्होने समाज के लिए अनेको काम किये इसके लिए इन्हें 1957 में सर्व सेवा संघ के अध्यक्ष के रूप में चुना गया इनकी मृत्यु दिल का दौरा पड़ने की वजह से 24 जून 1984 को हुई थी।

हरेकृष्ण महताब

हरेकृष्ण महताब जी को उत्कल केसरी के नाम से जाना जाता हैं जिनके नाम ओडिशा के पहले मुख्यमंत्री होने का श्रेय जाता हैं यह भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस पार्टी से थे और इन्होने ओडिशा का मुख्यमंत्री पद दो बार संभाला था इनका पहला कार्यकाल 23 अप्रैल 1946 से 12 मई 1950 और दूसरा कार्यकाल 19 अक्टूबर 1956 से 25 फरवरी 1961 तक रहा था।   

नाम हरेकृष्ण महताब
जन्म 21 नवम्बर 1899
पार्टी भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस
कार्यकाल 1946 -1961
मृत्यु 2 जनवरी 1987

हरेकृष्ण महताब जी का जन्म बंगाल प्रेसीडेंसी के समय में 21 नवम्बर 1899 को हुआ था इनकी जीवनसाथी श्रीमती सुभद्रा महताब थी यह 2 मार्च 1955 से 14 अक्टूबर 1956 तक बॉम्बे के राज्यपाल पद पर रहे थे। 

>भारत का प्रधानमंत्री कौन हैं
>भारत के राष्ट्रपति कौन हैं
>भारत के सबसे अमीर आदमीं की लिस्ट
>भारत में कुल कितने राज्य है
>दुनिया मे कितने देश है

तो दोस्तों आज हमनें आपकों ओडिशा का मुख्यमंत्री कौन हैं औऱ अब से कब तक ओडिशा में कौन-कौन मुख्यमंत्री रहें है उन सबकी जानकारी प्रदान की गई हैं जोकि सामान्य ज्ञान व सरकारी नौकरीयों की परीक्षाओं रखने वाले लोगों के लिए बेहद मदतगार रही होंगी।

All Odisha CM List

मुख्यमंत्री  कब से कब तक
हरेकृष्ण महताब 1946 -1961
नवकृष्ण चौधरी 1950 – 1956
बीरेन मित्रा 1963 – 1965
सदाशिव त्रिपाठी 1965 – 1967
राजेन्द्र नारायण सिंह देव 1967 – 1971
बिस्वानाथ दास 1971 – 1972
नंदिनी सत्पथी 1972 – 1976
बिनायक आचार्य 1976 – 1977
नीलमणि राउत्रे 1977 – 1980
बीजू पटनायक 1961 – 1963
1990 – 1995
जानकी बल्लभ पटनायक 1980 – 1999
गिरिधर गमंग 1999
हेमानंद बिस्वाल 1989 – 2000
नवीन पटनायक वर्तमान

सवाल-जवाब ओडिशा मुख्यमंत्री

Q- ओडिशा का वर्तमान मुख्यमंत्री कौन हैं?

Ans- नवीन पटनायक

Q- ओडिशा का पहला मुख्यमंत्री कौन था?

Ans- हरेकृष्ण महताब

Q- ओडिशा का दूसरा मुख्यमंत्री कौन था?

Ans- नवकृष्ण चौधरी

Q- ओडिशा के किस मुख्यमंत्री को इंडोनेशिया सरकार के द्वारा “भूमिपुत्र” सम्मान से सम्मानित किया गया था?

Ans- बीजू पटनायक

Q- ओडिशा के किस मुख्यमंत्री को उत्कल केसरी के नाम से जाना जाता हैं?

Ans- हरेकृष्ण महताब

Q- ओडिशा के पहले आदिवासी मुख्यमंत्री कौन थे?

Ans- हेमानंद बिस्वाल

Q- ओडिशा के किस मुख्यमंत्री ने ओडिशा साहित्य अकादमी पुरुस्कार जीता था?

Ans- नीलमणि राउत्रे

Q- ओडिशा के कौन से मुख्यमंत्री असम के राज्यपाल पद पर भी रहे थे?

Ans- जानकी बल्लभ पटनायक

Q- ओडिशा की पहली महिला मुख्यमंत्री कौन थी?

Ans- नंदिनी सत्पथी

Q- ओडिशा के कौन से मुख्यमंत्री पटना के अंतिम शासक थे?

Ans- राजेन्द्र नारायण सिंह देव

Q- ओडिशा के किस मुख्यमंत्री की आत्मकथा स्मृति ओ अनुभूति हैं?

Ans- नीलमणि राउत्रे

Q- ओडिशा के कौन से मुख्यमंत्री बॉम्बे के राज्यपाल पद पर भी रहे थे?

Ans- हरेकृष्ण महताब

Q- ओडिशा के कौन से मुख्यमंत्री सबसे लम्बे समय तक मुख्यमंत्री पद पर रहे हैं?

Ans- नवीन पटनायक

Q- ओडिशा का सी एम कौन हैं?

Ans- नवीन पटनायक

हम उमीद करते है कि आपको हमारा यह आर्टिकल पसंद आया होगा औऱ अगर पसंद आया है तो इसे अपने सभी दोस्तों के साथ जरूर Share करें तथा आपके कोई सवाल जवाब है तो हमने कमेंट बॉक्स के माध्यम से जरूर बतायें।

हर जानकारी अपनी भाषा हिंदी में सरल शब्दों में प्राप्त करने के हमारे फेसबुक पेज को लाइक करे जहाँ आपको सही बात पूरी जानकारी के साथ प्रदान की जाती है हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहाँ क्लिक करें

मेरा नाम HP Jinjholiya है और इस Blog पर हर रोज नयी पोस्ट अपडेट करता हूँ। उमीद करता हूँ आपको मेरे द्वार लिखी गयी पोस्ट पसंद आयेगी और अगर आप भी हमारे साथ काम करना चाहतें है हमें मेल करें 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.