दुनिया की सबसे मधुर भाषा कौन सी है

5/5 - (2 votes)

भाषा जिसके जरिए हम अपने विचारों व भावनाओं को एक दूसरे तक पहुंचाते हैं और पूरी दुनिया मे सिर्फ़ एक ही भाषा नही बोली जाती है बल्कि अगर बात करें भाषाओं की तो पूरे विश्व में 6500 से ज्यादा भाषाएं बोली जाती है ऐसे में वह कौन सी भाषा है जो दुनिया की सबसे मधुर भाषा कहलाती है?

मधुर भाषा वह होती है जो आप के मुख से निकलकर सामने वाले के कानों में जब पड़ती है तो उसका मन प्रसन्न व आत्मा तृप्त हो जाती है और वह आसानी से आपकी भाषा को समझ जाता है वही दुनिया की सबसे मधुर भाषा कहलाती है।

दुनिया की सबसे प्यारी भाषा के बारे में जानने वालों आपका स्वागत है हम प्रेम की भाषा, कविता की भाषा, संगीत की भाषा, आदर की भाषा, संस्कृति की भाषा औऱ सबसे प्राचीनतम भाषाओं में से एक भारत की भाषा हिंदी की बात कर रहे हैं।

duniya ki sabse madhur bhasha kaun si hai दुनिया की सबसे मधुर भाषा कौन सी है

दुनिया की सबसे मधुर भाषा कौन सी है

भाषा की उत्पत्ति मनुष्य के नियंत्रण हो रहे विकास के फलस्वरुप हुई है जैसे-जैसे मनुष्य विकसित हुआ वैसे-वैसे मनुष्य द्वारा कई सारी भाषाओं को विकसित किया गया है इसलिए पूरे विश्व में 6500 से अधिक भाषाएं बोली जाती है औऱ इन सभी भाषाओं की अपनी अनूठी विशेषता और इतिहास है।

परंतु क्या आपने कभी सोचा है कि दुनिया में सबसे मधुर भाषा कौन सी है?

कुछ लोग “मैंडरिन भाषा” को सबसे मधुर भाषा मानते है क्योंकि यह दुनिया की सबसे ज्यादा बोली जाने वाली चीन देश की भाषा है चूंकि चीन जनसंख्या की दृष्टि से दुनिया का सबसे बड़ा देश है और मैंडरिन चीन में बोली जाने वाली प्रमुख भाषा है जिसे दुनिया भर में 90 करोड से भी ज्यादा लोगों द्वारा बोला जाता है।

“मैंडरिन भाषा” के देशी वक्ताओं की सबसे अधिक संख्या होने के कारण और अंतरराष्ट्रीय व्यापार में इसकी महत्वपूर्ण भूमिका होने के कारण कुछ लोग मैंडरिन भाषा को दुनिया की सबसे मधुर भाषा मानते हैं जिसमें “चीन के लोग प्रमुख”

कुछ लोग “इंग्लिश भाषा” को दुनिया की सबसे मधुर भाषा मानते हैं क्योंकि इंग्लिश एक ऐसी भाषा है जोकि दुनिया के अधिकतर देशों में बोली जाती है और इंग्लिश भाषा संचार की वैश्विक भाषा के रूप तथा इंग्लिश में बहुत अधिक जानकारी और संसाधनों के होने के कारण दुनिया की सबसे मधुर भाषा में गिना जा सकता है।

“ऐसा वह लोग मानते हैं जिन देशों में इंग्लिश बोली जाती है या फिर जो अपनी मातृभाषा इंग्लिश होने पर गर्व करते हैं”

लेकिन सच तो यह है कि दुनिया में ऐसी कोई भी भाषा नहीं है जोकी दुनिया की सबसे मधुर भाषा होने का खिताब हासिल कर चुकी है क्योंकि हर देश की अपनी अलग-अलग भाषाएं हैं और हर देश अपनी भाषाओं को सबसे सर्वश्रेष्ठ, बेहतरीन और मधुर भाषा मानता है और वह अपनी मातृभाषा पर गर्व करता है।

असल में, दुनिया की सबसे मधुर भाषा वह है जो लोगों को एक दूसरे के साथ जोड़ती है, जो आसानी से बोली और समझी जाती है, जो विभिन्न संस्कृतियों व लोगों को एक साथ लाती है, जो संचार और समझ को सुविधाजनक बनाती है।

और एक ऐसी भाषा है जिसे आप-मैं ही नहीं बल्कि दुनिया का हर शख्स दुनिया की सबसे मधुर भाषा मानता है और आप भी इसे दुनिया की सबसे मधुर भाषा मानेंगे वह है “हमारी मातृभाषा” “आपकी मातृभाषा”

“हिंदी भाषा” इस दुनिया की सबसे मधुर भाषा है जोकि भारत की मातृभाषा है वैसे तो भारत में अलग-अलग तरह की 22 भाषाएं बोली जाती है लेकिन भारत में हिंदी भाषा सबसे अधिक बोली जाने वाली भाषाओं में से एक है तथा दुनिया भर में 70 करोड से ज्यादा लोगों द्वारा हिंदी भाषा बोली जाती है जोकि इस दुनिया की तीसरी सबसे ज्यादा बोले जाने वाली भाषा है।

चाहे आप एक प्रेम पत्र लिख रहे हो या किसी गीत को सुन रहे हो हिंदी में आपकी भावनाओं को व्यक्त करने के लिए एकदम सही शब्द मिलते हैं “हिंदी भाषा” को खास बनाने वाली जो सबसे महत्वपूर्ण चीज है वह सम्रद्ध शब्दावली और अभिव्यंजन प्रकृति जो काव्यात्मक और रोमांटिक वाक्यांशों के लिए जानी जाती है जिसका उपयोग अक्सर प्यार और स्नेह व्यक्त करने के लिए किया जाता है और साथ ही हिंदी भाषा की लय और धूम पूरी दुनिया में लोगों द्वारा पसंद की जाती है इसलिए यही है दुनिया के सबसे मधुर भाषा “हमारी हिंदी भाषा”

भारत की सबसे मधुर भाषा कौन सी है

मधुर भाषा की हिंदी दुनिया में आपका स्वागत है यह दुनिया की सबसे मीठी मधुर भाषा हैं जोकि भारत के कोने-कोने में बोली जाती है वैसे तो भारत में अलग-अलग 22 भाषाएं बोली जाती है लेकिन जो भारतवर्ष को एक साथ जोड़ती है वह भाषा “हिंदी” कहलाती है हिंदी जोकि प्राचीनतम भाषाओं में से एक है जिसका इतिहास बहुत पुराना है।

हम सब जानते हैं कि भारत में कई भाषाएं बोली जाती है और कुल मिलाकर देखें तो भारत में 22 भाषाएं बोली जाती है जिसमें कश्मीरी, पंजाबी, हिंदी, सिन्धी, बंगाली, उड़िया, आसामी, गुजराती, तेलुगू, कन्नड़, मराठी, मलयालम, तमिल, उर्दू, नेपाली, संस्कृत, मणिपुरी, डोंगरी, मैथिली इत्यादि शामिल है।

इसलिए अगर आप भारत में उत्तराखंड, उत्तर प्रदेश, राजस्थान, हरियाणा, मध्य प्रदेश, झारखंड औऱ हिमाचल प्रदेश जैसे राज्यों से हैं जहां हिंदी सबसे ज्यादा बोली जाती है तो आपके लिए हिंदी दुनिया की सबसे सुंदर भाषा है और अगर पंजाब से है तो पंजाबी, पश्चिम बंगाल से है तो बंगाली, आंध्र प्रदेश से है तो तेलुगू, उर्दू कर्नाटका से है तो कन्नड़, केरला से है तो मलयालम इस प्रकार आपके राज्य में बोली जाने वाली आपकी मातृभाषा भी दुनिया की सबसे मधुर भाषा हैं।

अंत में, दुनिया की सबसे मधुर भाषा हमारी मातृभाषा होती है जिस प्रकार दुनिया की सबसे सुंदर हमारी मां होती है उसी प्रकार हमारी मातृभाषा भी वही स्थान रखती है मां और मातृभाषा एक समान होती है।

हमने आपको बताया कि हमारी मातृभाषा हिंदी दुनिया की सबसे मधुर भाषा है मैंने तो सिर्फ आपको बताया है अब आपकी बारी है अब आपको पूरी दुनिया को बताना है और इसके लिए आपको इस आर्टिकल को अपने हर सोशल मीडिया पर शेयर करना है और बताना है कि दुनिया की सबसे मधुर भाषा हमारी मातृभाषा हिंदी है।

तो चलिए आज से हिंदी सीखना शुरू करते हैं और हिंदी भाषा की सुंदरता और आकर्षण का अनुभव करते हैं!! हर जानकारी अपनी भाषा हिंदी में सरल शब्दों में प्राप्त करने के हमारे फेसबुक पेज को लाइक करे जहाँ आपको सही बात पूरी जानकारी के साथ प्रदान की जाती है हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहाँ क्लिक करें

मेरा नाम HP Jinjholiya है और इस Blog पर हर रोज नयी पोस्ट अपडेट करता हूँ। उमीद करता हूँ आपको मेरे द्वार लिखी गयी पोस्ट पसंद आयेगी और अगर आप भी हमारे साथ काम करना चाहतें है हमें मेल करें 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.