Aaj Ki Tithi- आज की तिथि और शुभ मुर्हत जानिए

Aaj Ki Tithi- साल का हर दिन ख़ास होता हैं और हर दिन अनेकों ऐसी महत्वपूर्ण चीजें होती हैं जिनके बारे में हमें जानकारी होना आवश्यक होता है जैसे आज की तिथि, व्रत, त्यौहार, जयंती, ग्रह, नक्षत्र, योग, वर, पक्ष, मुहर्त औऱ सूर्य उदय-अस्त इत्यादी क्योंकि हिन्दू धर्म के अनुसार इन सभी चीज़ों का मानव जीवन पर प्रभाव पड़ता हैं।

इसलिए आज भी अधिकतर लोग किसी भी महत्वपूर्ण कार्य को करने से पहले शुभ मुहूर्त देखते है जिसके लिए पंचांग और चौघड़िया का इस्तेमाल किया जाता हैं जिसमें आपकों प्रत्येक दिन के बारे में विस्तार से बताया जाता हैं तथा शादी-विवाह जैसे शुभ कार्य को करने के लिए भी पंचांग व चौघड़िया का सहारा लिया जाता हैं।

आमतौर पर एक साल में 365 दिन होते हैं और हर 4 साल बाद लीप वर्ष आता हैं जिसके कारण उस वर्ष 366 दिन हो जाते हैं तथा फ़रबरी का महीना 28 दिन से 29 दिन का हो जाता है अतः वर्ष के प्रत्येक दिन आज की तिथि, व्रत, त्यौहार, जयंती, ग्रह, नक्षत्र, योग, वर, पक्ष, मुहर्त इत्यादी की जानकारी होना आवश्यक होता हैं।

इसलिए यहाँ पर आपकों आज की तिथि(Aaj Ki Tithi) क्या है और साथ ही सभी महत्वपूर्ण बातों की जानकारी प्रदान की गई हैं जिसे आप आज की तिथि व आज के दिन के बारे में विस्तार से जान सकते हैं जिसको हर दिन अपडेट किया जाता हैं इसलिए आप हमारी वेबसाइट NewsMeto को बुकमार्क या गूगल पर सर्च करकें आज की तिथि की जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

आज की तिथि क्या है- Aaj Ki Tithi

हर दिन नया दिन होता हैं जोकि हमारे जीवन में नई उमंग और नये सपनें लेकर आता हैं इसलिए किसी विशेष कार्य व आयोजन को करने से पहले शुभ मुहूर्त को देखने का विधान होता हैं ताकि हमें किसी प्रकार की कोई समस्या न आये औऱ हमें सफलता प्राप्त हो।

सोने का भावआज का चौघड़िया
आज का सुविचारआज का पंचांग

इसलिए हर दिन शुभ मुहूर्त व अशुभ मुहूर्त की जानकारी प्राप्त करने के लिए पंचांग और चौघड़िया का सहारा लिया जाता हैं औऱ पंचांग को हिन्दू कैलेंडर भी कहा जाता है जिसमें आपको हर दिन के बारे में विस्तार से बता जाता हैं जोकि निम्नलिखित प्रकार हैं-

आज कौनसी तिथि है?आज वार कौनसा है?
चंद्रमा राशि-नक्षत्र में हैं?चंद्रमा का प्रभाव?
सूर्योद्य का क्या समय है?सूर्यास्त का क्या समय है?
चंद्रोद्य कब हो रहा है?कौनसा पक्ष चल रहा है?
करण क्या है?योग क्या बन रहे हैं?
माह कौनसा चल रहा है?सूर्य राशि क्या बन रही है?
सूर्य किस नक्षत्र में हैं?ऋतु कौनसी चल रही है?
माह कौनसा है?शुभसमय-शुभकाल क्या है?
अशुभ-समय कब तक है?अयन क्या है?

पंचांग यानी पांच अंग जैसे कि नाम से पता चला रहा है यह पांच अंगों से मिलकर बना हैं जिसमें नक्षत्र, तिथि, योग, करण और वार होते हैं जिनकी मदत से पंचांग का अध्ययन किया जाता हैं औऱ शुभ मुहूर्त का पता किया जाता हैं।

नक्षत्र के नाम

1. अश्विनी2. भरणी
3. कृतिका4. रोहिणी
5. मृगशिरा6. आर्द्रा
7. पुनर्वसु8. पुष्य
9. अश्लेषा10. मघा
11. पूर्वा फाल्गुनी12. उत्तरा फाल्गुनी
13. हस्त14. चित्रा
15. स्वाती16. विशाखा
17. अनुराधा18. ज्येष्ठा
19. मूल20. पूर्वाषाढ़ा
21. उत्तराषाढा22. श्रवण
23. धनिष्ठा24. शतभिषा
25. पूर्वाभाद्रपद26. उत्तरभाद्रपद
27. रेवती

तिथि के नाम

दिनांक व तारीख़ को ही तिथि कहा जाता हैं एक मास यानी महीनें में आमतौर पर 30 दिन होते हैं जिसमें दो पक्ष होते हैं कृष्ण पक्ष औऱ शुक्ल पक्ष! मास के 30 दिनों में 15 दिन कृष्ण पक्ष के होते है तथा 15 दिन शुक्ल पक्ष के होते है।

शुक्ल पक्ष के नाम

1. प्रतिपदा2. द्वितीया3. तृतीया
4. चतुर्थी5. पंचमी6. षष्ठी
7. सप्तमी8. अष्टमी9. नवमी
10. दशमी11. एकादशी12. द्वादशी
13. त्रयोदशी14. चतुर्दशी15. पूर्णिमा

कृष्ण पक्ष के नाम

1. प्रतिपदा2. द्वितीया3. तृतीया
4. चतुर्थी5. पंचमी6. षष्ठी
7. सप्तमी8. अष्टमी9. नवमी
10. दशमी11. एकादशी12. द्वादशी
13. त्रयोदशी14. चतुर्दशी15. अमावस्या

करण के नाम

एक तिथि में दो करण होते हैं औऱ तिथि के आधे हिस्से जो करण कहा जाता हैं।

चर करण– बव, बालव, कौलव, तैतिल, गर, वणिज्य, विष्टी।

स्थिर करण– शकुनि, चतुष्पाद, नाग, किंस्तुघ्न।

योग के नाम

1. विष्कुम्भ2. प्रीति
3. आयुष्मान4. सौभाग्य
5. शोभन6. अतिगण्ड
7. सुकर्मा8. धृति
9. शूल10. गण्ड
11. वृद्धि12. ध्रुव
13. व्याघात14. हर्षण
15. वज्र16. सिद्धि
17. व्यातीपात18. वरीयान
19. परिघ20. शिव
21. सिद्ध22. साध्य
23. शुभ24. शुक्ल
25. ब्रह्म26. इन्द्र
27. वैधृति

वार के नाम

सोमवारमंगलवार
बुधवारबृहस्पतिवार
शुक्रवारशनिवार
रविवार

आज का चौघड़िया क्या हैं

दरअसल चौघड़िया पंचांग हिंदू कैलेंडर का ही एक स्वरूप है जब किसी शुभ कार्य को करने के लिए शुभ मुहूर्त नहीं निकलता या फिर किसी कार्य को जल्दी से करना होता है तो उसके लिए आज का चौघड़िया देखा जाता है जिसमें हर दिन के लिए तिथि, वार, महा, मुहूर्त, योग, नक्षत्र इत्यादि की जानकारी होती है।

चौघड़िया में आपको दिन और रात दोनों के लिए शुभ और अशुभ समय की अंकतालिका प्रदान की जाती है जिसकी मदद से आप दिन और रात में किसी भी शुभ कार्य को करने के लिए शुभ मुहूर्त की जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

चौघड़िया को आसानी से समझने जैसे 1 वर्ष के दो हिस्से उत्तररायण व दक्षिणायन होते हैं उसी प्रकार एक महीने में भी दो पक्ष यानी कृष्ण पक्ष और शुक्ल पक्ष होते है ठीक उसी प्रकार प्रत्येक दिन के भी दो हिस्से होते है एक दिन और दूसरा रात नीचे दिए गए चित्र के माध्यम से चौघड़िया को देखें।

चौघड़िया में आपको प्रत्येक दिन के लिए अमृत, रोग, लाभ, शुभ, चर, काल, उद्वेग इत्यादि की जानकारी प्रदान की जाती है जिसके माध्यम से आप शुभ-अशुभ समय का पता लगाते हैं तथा किसी भी कार्य को शीघ्रता से शुरू करने के लिए इसका सहारा लिया जाता है।

Related Searches
-Aaj ki tithi in hindi
-Panchang Aaj Ki Tithi
-Today Tithi Panchang in hindi
-Today Tithi in Hindi 2021
-Aaj Ki Tithi Kaun si hai
-Today Tithi in Hindi
-Aaj Ki Tithi Panchang
-Aaj Ki Tithi

तो दोस्तों आज की तिथि(Aaj Ki Tithi) क्या है और कौन सा शुभ मुहूर्त है जानने के लिए आप हर दिन हमारी वेबसाइट पर आकर जानकारी प्राप्त कर सकते हैं जिसको समय-समय पर अपडेट किया जाता रहा है जोकि आपके लिए मददगार रहेगीं।

हम उम्मीद करते हैं कि आपको हमारी यह जानकारी पसंद आई होगी और इससे आपको मदद मिली होगी तो अगर आपको हमारी यह जानकारी पसंद आती है तो इस जानकारी को अपने सभी मित्रों के साथ सोशल मीडिया पर शेयर करें ताकि वह भी इससे अवगत रह सके।

हर जानकारी अपनी भाषा हिंदी में सरल शब्दों में प्राप्त करने के हमारे फेसबुक पेज को लाइक करे जहाँ आपको सही बात पूरी जानकारी के साथ प्रदान की जाती है हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहाँ क्लिक करें

WhatsApp Channel Join
HP Jinjholiya
HP Jinjholiyahttps://newsmeto.com/
मेरा नाम HP Jinjholiya है, मैंने 2015 में ब्लॉगस्पॉट पर एक ब्लॉगर के रूप में काम करना शुरू किया उसके बाद 2017 में मैंने NewsMeto.com बनाया। मैं गहन शोध करता हूं और हमारे पाठकों के लिए उच्च गुणवत्ता वाली सामग्री उत्पादित करता हूं। हर एक सामग्री मेरे व्यापक विशेषज्ञता और गहरे शोध पर आधारित होती है।

Must Read